श्री गणेश पूजा मंत्र ( Shri Ganesh Puja Mantra ) Lord Ganesh Puja Mantra

श्री गणेश पूजा मंत्र, Shri Ganesh Puja Mantra, Lord Ganesh Puja Mantra, Shri Ganesh Puja Mantra Pdf, Shri Ganesh Puja Mantra In Sanskrit, Shri Ganesh Puja Mantra Lyrics, Shri Ganesh Puja Mantra List.

श्री गणेश पूजा मंत्र || Shri Ganesh Puja Mantra || Lord Ganesh Puja Mantra

यंहा हम आपको भगवान श्री गणेश जी के मन्त्रों के बारे में बताने जा रहे हैं ! यंहा हम आपको भगवान श्री गणेश जी की पूजा विधि में होने वाले मंत्रो के बारे में बताने जा रहे हैं ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Brahman द्वारा बताये जा रहे श्री गणेश पूजा मंत्र ( Shri Ganesh Puja Mantra & Lord Ganesh Puja Mantra ) को पढ़कर आप भगवान श्री गणेश जी की मन्त्रों के साथ पूजा अर्चना कर सकोंगे !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 7821878500 shri ganesh puja mantra by acharya pandit lalit brahman 

श्री गणेश पूजा मंत्र || Shri Ganesh Puja Mantra || Lord Ganesh Puja Mantra

दीप दर्शन कराने का श्री गणेश पूजा मंत्र : deep darshan karane ka shri ganesh puja mantra :

इस मंत्र के द्वारा भगवान गणेश को दीप दर्शन कराना चाहिए.

साज्यं च वर्तिसंयुक्तं वह्निना योजितं मया ।

दीपं गृहाण देवेश त्रैलोक्यतिमिरापहम् ।

भक्त्या दीपं प्रयच्छामि देवाय परमात्मने ।

त्राहि मां निरयाद् घोरद्दीपज्योत ॥

आपकी कुंडली के अनुसार 10 वर्ष के आसन उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) आज ही बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में अभी Mobile पर कॉल या Whats app Number पर सम्पर्क करें : 7821878500

सिन्दूर अर्पण करने का श्री गणेश पूजा मंत्र : sindur arapan karne ka shri ganesh puja mantra : 

भगवान गणपति की पूजा के मध्य, इस मंत्र को पढ़ते हुए उन्हें सिन्दूर अर्पण करना चाहिए.

सिन्दूरं शोभनं रक्तं सौभाग्यं सुखवर्धनम् ।

शुभदं कामदं चैव सिन्दूरं प्रतिगृह्यताम् ॥

नैवेद्य समर्पण करने का श्री गणेश पूजा मंत्र : naiveday samarpan karne ka shri ganesh puja mantra :

इस मंत्र के द्वारा भगवान गणेश को नैवेद्य समर्पण करना चाहिए

नैवेद्यं गृह्यतां देव भक्तिं मे ह्यचलां कुरू ।

ईप्सितं मे वरं देहि परत्र च परां गरतिम् ॥

शर्कराखण्डखाद्यानि दधिक्षीरघृतानि च ।

आहारं भक्ष्यभोज्यं च नैवेद ॥

पुष्पमाला समर्पण करने का श्री गणेश पूजा मंत्र : pushpmala samarpan karne ka shri ganesh puja mantra :

भगवान गणेश की पूजा करते समय, इस मंत्र को पढ़ते हुए उन्हें पुष्पमाला समर्पण करना चाहिए

माल्यादीनि सुगन्धीनि मालत्यादीनि वै प्रभो ।

मयाहृतानि पुष्पाणि गृह्यन्तां पूजनाय भोः ॥

यज्ञोपवीत समर्पण करने का श्री गणेश पूजा मंत्र : yagyopaveet samarpan karne ka shri ganesh puja mantra :

गणपति पूजन के मध्य, इस मंत्र के द्वारा भगवान गणेश को यज्ञोपवीत समर्पण करना चाहिए

नवभिस्तन्तुभिर्युक्तं त्रिगुणं देवतामयम् ।

उपवीतं मया दत्तं गृहाण परमेश्वर ॥

आसन समर्पण करने का श्री गणेश पूजा मंत्र : aasan samarpan karne ka shri ganesh puja mantra :

पूजा के मध्य, इस मंत्र के द्वारा भगवान गजानन श्री गणेश को आसन समर्पण करना चाहिए

निषु सीड गणपते गणेषु त्वामाहुर्विप्रतमं कवीनाम् ।

न ऋते त्वत् क्रियते किंचनारे महामर्कं मघवन्चित्रमर्च ॥

भगवान् भालचंद्र को प्रणाम करने का मंत्र : bhagwan bhalachandra ko pranam karne ka mantra : 

गणेश पूजा के उपरान्त, इस मंत्र के द्वारा भगवान् भालचंद्र को प्रणाम करना चाहिए

विघ्नेश्वराय वरदाय सुरप्रियाय लम्बोदराय सकलाय जगद्धिताय ।

नागाननाय श्रुतियज्ञविभूषिताय गौरीसुताय गणनाथ नमो नमस्ते ॥

आह्वान करने का श्री गणेश पूजा मंत्र : aavahan karne ka shri ganesh puja mantra :

विघ्नहर्ता भगवान गणेश की पूजा करते समय, इस मंत्र के द्वारा उनका आह्वान करना चाहिए

गणानां त्वा गणपतिं हवामहे प्रियाणां त्वा प्रियपतिं हवामहे ।

निधीनां त्वा निधिपतिं हवामहे वसो मम आहमजानि गर्भधमा त्वमजासि गर्भधम् ॥

स्मरण करने का श्री गणेश पूजा मंत्र : samaran karne ka shri ganesh puja mantra :

इस मंत्र के द्वारा प्रातः काल, भगवान श्री गणेश जी का स्मरण करना चाहिए

प्रातर्नमामि चतुराननवन्द्यमानमिच्छानुकूलमखिलं च वरं ददानम् ।

तं तुन्दिलं द्विरसनाधिपयज्ञसूत्रं पुत्रं विलासचतुरं शिवयोः शिवाय ॥

यदि आपके जीवन में किसी भी प्रकार की समस्या आ रही हो और आप उस समस्या से निजात पाना चाहते हो तो, ज्योतिष आचार्य पंडित ललित शर्मा पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण करवाए ! +91- 7821878500 ( Paid Services )

ध्यान करने का श्री गणेश पूजा मंत्र : dhayan karne ka shri ganesh puja mantra :

गणपति पूजन के समय, इस मंत्र से भगवान गणेश जी का ध्यान करना चाहिए

खर्व स्थूलतनुं गजेन्द्रवदनं लम्बोदरं सुन्दरं प्रस्यन्दन्मदगन्धलुब्धमधुपव्यालोलगण्डस्थलम ।

दंताघातविदारितारिरूधिरैः सिन्दूरशोभाकरं वन्दे शलसुतासुतं गणपतिं सिद्धिप्रदं कामदम् ॥

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>

जन्मकुंडली सम्बन्धित, ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

किसी भी तरह का यंत्र या रत्न प्राप्ति के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

बिना फोड़ फोड़ के अपने मकान व् व्यापार स्थल का वास्तु कराने के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500


नोट : ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या से परेशान हो तो ज्योतिष आचार्य पंडित ललित शर्मा पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 7821878500 ( Paid Services )

New Update पाने के लिए पंडित ललित ब्राह्मण की Facebook प्रोफाइल Join करें : Click Here

आगे इन्हें भी जाने :

जानें : कालसर्प दोष के उपाय : Click Here

जानें : कालसर्प दोष शांति मंत्र : Click Here

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

ऑनलाइन पूजा पाठ ( Online Puja Path ) व् वैदिक मंत्र ( Vaidik Mantra ) का जाप कराने के लिए संपर्क करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *