राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय, Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay, Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Totke, Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Mantra, Rashi Anusar Shanichari Amavasya Ke Upay, Rashi Anusar Shanichari Amavasya Ke Totke, Rashi Anusar Shanichari Amavasya Ke Mantra, Rashi Anusar Shanishchar Amavasya Ke Upay, Rashi Anusar Shanishchar Amavasya Ke Totke, Rashi Anusar Shanishchar Amavasya Ke Mantra. 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यदि आप ज्योतिष, वास्तु, मंत्र, साधना, यन्त्र, तंत्र, रत्न और अन्य आपके जीवन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी में रूचि रखते हो तो अभी हमारे YouTube चैनल “Pandit Lalit Trivedi” को यूट्यूब पर सर्च करके Subscribe करें ! धन्यवाद

राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनिवार को आने वाली अमावस्या को शनिचरी अमावस्या कहते है ! शनिचरी अमावस्या का अपने में बहुत ज्यादा महत्व माना जाता है  ! शनिचरी अमावस्या के दिन जो जातक काल सर्प दोष, पित्र दोष, ग्रहण दोष एवं चाण्डाल दोष आदि से पीड़ित है तो इस दिन पाठ पूजन व् दान करके इन दोषों से मुक्ति पा सकता है ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi द्वारा बताये जा रहे राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay को पढ़कर आप भी बहुत आसन उपाय करके शनिचरी अमावस्या के दिन का लाभ व् फायदा उठा सकोगें व् सभी तरह के दोष से निवारण पा कर अभी सभी मनोकामना पूरी कर सकते हैं !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 9667189678 Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay By Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi 

राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

मेष राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Mesh Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो बाजरा लेकर उसे किसी मिट्टी के बर्तन में भरकर उसके ऊपर चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र को 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस बाजरे को 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ प्रां प्रीं प्रौं स: शनये नम:” ।

वृष राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Vrishabha Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो अरहर की दाल लेकर उसे किसी मिट्टी के बर्तन में भरकर उसके ऊपर चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस अरहर की दाल को 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! और इस दिन आप कच्चा दूध मिश्रित जल लेकर पीपल वृक्ष को अर्पित करें और फिर वहां की गीली मिट्टी से तिलक करें ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ प्रां प्रीं प्रौं स: शनये नम:” ।

मिथुन राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Mithun Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर साबूत मूंग हरे कपड़े में बांधकर उसे किसी बर्तन में भरकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस साबूत मूंग को कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! और इस दिन आप अपने शरीर के वज़न जितना बाजरा गौशाला में दान कर दें  ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ नमो भगवते शनैश्चराय सूर्य पुत्राय नम:” ।

कर्क राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Kark Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो अखंडित चावल लेकर उसे किसी सफ़ेद कपड़े में बांधकर उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस चावल को कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! और इस दिन आप अपने शरीर के वज़न जितना चना गौशाला में दान कर दें  ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “नीलाञ्जन समाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम् । छाया मार्ताण्ड सम्भूतं तं नमामि शनैश्चरम्” ॥

सिंह राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Singh Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो गेहूं लेकर उसे किसी लाल कपड़े में बांधकर उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस गेहूं को कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! और इस दिन आप अपने शरीर के वज़न जितना गेहूँ गौशाला में दान कर दें  ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “सूर्यपुत्रो दीर्घदेहो विशालाक्ष: शिवप्रिय। मन्दचार: प्रसन्नात्मा पीड़ां हरतु मे शनि:”।।

कन्या राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Kanya Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो मशरुम मिट्टी के बर्तन में भरकर उसे किसी हरे कपड़े में बांधकर उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस मशरुम को कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! और इस दिन आप किन्नर को हरा कपड़ा, हरी चूड़ियाँ और दक्षिणा आदि दान कर दें  ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ प्रां प्रीं प्रौं शं शनैश्चराय नम:”।

तुला राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Tula Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो जौ कांसे के बर्तन में भरकर उसे किसी क्रीम रंग कपड़े में बांधकर उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस जौ को बरतन और कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! और इस दिन आप किसी विवाहित स्त्री को सुहाग का सामान आदि दान कर दें  ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ शं शनैश्चराय नम:”।

वृश्चिक राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Vrishchik Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो साबूत मसूर की दाल को तांबे के बर्तन में भरकर उसे किसी लाल रंग कपड़े में बांधकर उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस साबूत मसूर की दाल को बरतन और कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ शं शनैश्चराय नम: ध्वजिनी धामिनी चैव कंकाली कलहप्रिया। कंटकी कलही चाथ तुरंगी महिषी अजा ऊँ शं शनैश्चराय नम:”।।

धनु राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Dhanu Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो चने की दाल को किसी पीले रंग के कपड़े में बांधकर उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस चने की दाल को कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! और इस दिन आप अपने शरीर के वज़न जितनी मक्का गौशाला में दान कर दें  ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ शं वज्रदेहाय नम:” ।

मकर राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Makar Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो चना को किसी नीले रंग के कपड़े में बांधकर उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर किसी भी शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस चने को कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ शं सर्वारिष्ट विनाशने” ।

कुंभ राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Kumbh Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो उड़द को किसी काले रंग के कपड़े में बांधकर उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उड़द को कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! और इस दिन आप 7 सूखे नारियल और 700 ग्राम बादाम सहित किसी मंदिर में अर्पित कर दें ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ऊँ भगभवाय विद्महे मृत्युरुपाय धीमहि तन्नो शनि प्रचोदयात्” ॥

मीन राशि अनुसार शनि अमावस्या के उपाय || Meen Rashi Anusar Shani Amavasya Ke Upay

शनि अमावस्या पर सूर्योदय से पहले उठकर नित्य कर्म आदि से निवृत होकर सवा किलो सरसों का तेल को लेकर किसी लोहे के बरतन में भरकर पीले कपड़े सहित उसे अपने पूजा स्थल पर रखकर उसके पास एक चौमुखा सरसों के तेल का दीपक जलाएं । उसके बाद आसन पर बैठकर दिए गए शनि मंत्र की 5 या 7 माला का जाप करें ! उसके बाद उस सरसों के तेल को बरतन और कपड़े सहित 55 साल की उम्र से अधिक वाले किसी भी ज़रुरतमद को दान कर दें ! इससे आपके ऊपर शनि देव की कृपा बनी रहेगी ! मंत्र : “ॐ ऐं ह्रीं श्रीं शनैश्चराय नमः” ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *