My Blog

indiaplus.co.in

मसूढ़ों में घाव के उपाय !! Masudo Me Gav Ke Upay

मसूढ़ों में घाव के उपाय [ Masudo Me Gav Ke Upay ] : 

यंहा हम आप सब को Masudo Me Gav Ke Ayurvedic Upay बताने जा रहे है ! जिन भी लोंगों के अपने  Masudo Me Gav के कारण परेशान रहते है ! उनके लिए हम यंहा Masudo Me Gav Ke Upay बताने जा रहे है ! जिन्हें आप अपने जीवन में करके लाभ व फायदा उठा सकते है !

  • सरसों के तेल में नमक तथा हल्दी मिलाकर अंगुली से नित्य मसूढ़ों तथा दांतों को रगड़कर साफ करना चाहिए इससे रोगी को बहुत अधिक लाभ मिलता है। Gum Wound Remedy 
  • मसूढ़ों की सूजन तथा घाव का इलाज ( Masudo Me Ghav Ka Ilaaj ) करने के लिए सबसे पहले रोगी व्यक्ति को इस रोग के होने के कारणों को दूर करना चाहिए और इसके बाद इसका उपचार करना चाहिए। 
  • किसी प्रकार से मसूढ़ों पर चोट लग जाने के कारण भी मसूढ़ों में सूजन तथा घाव हो जाते हैं इसलिए मसूढ़ों पर किसी तरह की चोट लगने से बचाव करना चाहिए। 
  • मसूढ़ों में सूजन तथा घाव से पीड़ित रोगी को कभी-भी चीनी, मिठाई या डिब्बा बंद खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। 
  • प्रतिदिन सुबह के समय में गर्म पानी में नमक डालकर कुल्ला करने से मसूढ़ों में सूजन के रोगी को बहुत अधिक लाभ मिलता है। 
  • मसूढ़ों की सूजन तथा घाव को ठीक ( Masudo Me Gav Ke Gharelu Nuskhe ) करने के लिए रोग व्यक्ति को अपने मसूढ़ों को प्रतिदिन मलना तथा रगड़ना चाहिए। 
  • नीम के पत्तों को उबालकर उस पानी से प्रतिदिन कुल्ला करने से मसूढ़ों की सूजन तथा घाव जल्दी ही ठीक हो जाते हैं। 
  • मसूढ़ों में सूजन तथा घाव से पीड़ित रोगी को सुबह तथा शाम के समय में नीम की लकड़ी से दातुन करना चाहिए। इससे रोगी को अधिक लाभ मिलता है। 

विज्ञापन :

यदि आप किसी रोग या किसी तरह की समस्या से परेशान चल रहे हो ज्योतिषी उपाय पाने के लिए क्लिक करें : Click Here

  • मसूढ़ों में सूजन तथा घाव का इलाज करने के लिए रोगी को गाजर, नींबू, आंवला, संतरा, मौसमी, पालक, नारियल पानी, सफेद पेठा आदि का रस पीकर उपवास रखना चाहिए। फिर इसके बाद कुछ दिनों तक बिना पका हुआ भोजन जैसे फल, सलाद, अंकुरित दाल आदि का सेवन करना चाहिए। फिर इसके बाद साधारण भोजन जिसमें विटामिन `सी´, `डी´ तथा कैल्शियम की मात्रा अधिक हो उनका सेवन करना चाहिए। 
  • अपनी उंगुली पर नींबू या आंवला का रस लगाकर, उंगुली को मसूढ़ों पर रगड़ने से मसूढ़ों की सूजन तथा घाव ठीक हो जाते हैं। प्रतिदिन चबाने से कुछ ही दिनों में मसूढ़ों की सूजन तथा घाव ( Masudo Me Gav Ke Ayurvedic Upay ) ठीक हो जाते हैं। 
  • मुद्रा, सर्वांगासन, मत्सयासन तथा पश्चिमोत्तानासन करने से भी मसूढ़ों की सूजन तथा घाव जल्दी ठीक हो जाते हैं। 
  • मसूढ़ों में सूजन तथा घाव से पीड़ित व्यक्ति को कुछ भी खाने या पीने के बाद मुंह को अवश्य ही साफ कर लेना चाहिए। 
  • इस रोग से पीड़ित रोगी यदि प्रतिदिन सुबह के समय में कुछ देर तक दूब चबाए तो उसका रोग कुछ ही दिनों में ठीक हो जाता है। 
  • मसूढ़ों की सूजन तथा घाव को ठीक करने के लिए दांतों पर स्थानीय चिकित्सा करने के साथ-साथ पूरे शरीर की प्राकृतिक साधनों से चिकित्सा करनी चाहिए जो इस प्रकार हैं- उपवास, एनिमा, मिट्टी पट्टी, कटिस्नान, गला लपेट, धूपस्नान, तथा जलोनेति आदि। 
  • शीतकारी, शीतली प्राणायाम करने से भी मसूढ़ों में सूजन तथा घाव से पीड़ित रोगी को बहुत अधिक लाभ मिलता हैं। 
  • बादाम के छिलके तथा फिटकरी को भूनकर फिर इसको पीसकर एक साथ मिलाकर शीशे की बोतल में भर दीजिए। इस मंजन को दांतों पर रोज मलने से मसूढ़ों की सूजन तथा घाव ठीक ( Masudo Me Ghav Ka Ilaaj ) हो जाते हैं। 
  • प्रतिदिन होठों के आसपास व ठोड़ी पर मिट्टी की पट्टी लगाने से मसूढ़ों की सूजन तथा घाव में बहुत अधिक आराम मिलता है। 

विज्ञापन :

यदि आप किसी रोग या किसी तरह की समस्या से परेशान चल रहे हो ज्योतिषी उपाय पाने के लिए क्लिक करें : Click Here

Updated: April 29, 2017 — 3:29 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

My Blog © 2016 Frontier Theme