मकर संक्रांति का महत्व || Makar Sankranti Ka Mahatva

मकर संक्रांति का महत्व, Makar Sankranti Ka Mahatva, Makar Sankranti Ka Mahatva Kya Hai, Makar Sankranti Snan Ka Mahatva, Makar Sankranti Daan Ka Mahatva.

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यदि आप ज्योतिष, वास्तु, मंत्र, साधना, यन्त्र, तंत्र, रत्न और अन्य आपके जीवन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी में रूचि रखते हो तो अभी हमारे YouTube चैनल “Pandit Lalit Trivedi” को यूट्यूब पर सर्च करके Subscribe करें ! धन्यवाद

मकर संक्रांति का महत्व || Makar Sankranti Ka Mahatva

मकर सक्रान्ति का त्यौहार माघ माह को बनाया जाता हैं ! वैसे तो मकर सक्रान्ति 14 जनवरी को ही आती है पर कभी कभी किसी वर्ष मकर सक्रान्ति 15 जनवरी को भी आ जाती हैं ! वैसे सूर्य देव जिस दिन मकर राशि में प्रवेश करते है उसी दिन मकर सक्रान्ति बनाई जाती हैं ! हमारे भारत देश में मकर सक्रान्ति के त्योहार को अलग अलग नामों से जाना जाता हैं ! हमारे उत्तर भारत में यह पर्व ‘मकर सक्रान्ति के नाम से जाना जाता है तो वही गुजरात राज्य में “उत्तरायण” नाम से जाना जाता है ! तो उसी तरह से मकर सक्रान्ति को पंजाब राज्य में लोहडी पर्व, तो उतराखंड राज्य में उतरायणी, तो केरल राज्य में पोंगल, और गढवाल में खिचडी संक्रान्ति के नाम से मनाया जाता है !

मकर संक्रान्ति वाले दिन पवित्र नदियों या सरोवर आदि पर स्नान करने का महत्व है ! इस दिन ख़ास कर लोग हरिद्वार, बनारस या गंगा स्थल पर नहाने जाते हैं ! मकर संक्रान्ति वाले दिन भगवान सूर्य देव की विशेष रूप से पूजा उपासना की जाती है ! इस दिन सूर्य देव को अर्घ्य देकर उन्हें श्वेतार्क तथा रक्त रंग के पुष्प अर्पित किये जाते हैं !

क्यों करते है मकर संक्राति पर दान || Kyu Karte Hai Makar Sankranti Par Daan

मकर संक्रान्ति वाले दिन दान करने का विशेष रूप से महत्व माना जाता हैं ! इस दिन विशेष रूप से तिल या तिल से बनी हुई वस्तुओं व् गुड़ दान करने का महत्व माना जाता हैं ! इस दिन जो भी व्यक्ति आस्था व् विश्वास के साथ यथासंभव जरूरतमंद लोगों को अन्नदान, तिल व गुड आदि का दान करते हैं तो उन्हें और दिनों की तुलना में ज्यादा पूण्य की प्राप्ति होती हैं ! इसलिए मकर संक्रान्ति वाले दिन जो भी जितना सहजता से दान कर सकते है वो करना चाहिए !

कहा जाता है की मकर संक्रान्ति के दिन तिल का सेवन और साथ ही तिल का दान करना शुभ माना जाता है ! तिल का उबटन, तिल के तेल का प्रयोग, तिल मिश्रित जल से स्नान, तिल मिश्रित जल का पान, तिल- हवन, तिल की वस्तुओं का सेवन व दान करना व्यक्ति के पापों में कमी लाता है !

मकर-संक्रान्ति के दिन देव भी धरती पर अवतरित होते हैं, आत्मा को मोक्ष प्राप्त होता है, अंधकार का नाश व प्रकाश का आगमन होता है. इस दिन पुण्य, दान, जप तथा धार्मिक अनुष्ठानों का अन्य महत्व है ! इस दिन गंगा स्नान व सूर्योपासना पश्चात गुड़, चावल और तिल का दान श्रेष्ठ माना गया है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *