दुकान में दिवाली लक्ष्मी पूजा की विधि || Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Ki Vidhi

दुकान में दिवाली लक्ष्मी पूजा की विधि, Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Ki Vidhi, Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Samagri, Kaise Kare Dukan Me Diwali Lakshmi Puja, Dukan Me Diwali Lakshmi Pujan Ki Vidhi, Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Mantra.

दुकान में दिवाली लक्ष्मी पूजा की विधि || Office Me Diwali Lakshmi Puja Ki Vidhi

दीपावली हिंदुओं का बहुत ही विशेष पर्व है। इस दिन विशेष रूप से देवी लक्ष्मी तथा भगवान गणेश की पूजा की जाती है। इस विशेष पर्व पर हर घर, परिवार, कार्यालय में लक्ष्मी जी की पूजा कर उनका स्वागत किया जाता है। व्यवसाय को बढ़ाने तथा सुख-समृद्धि के साथ अपना कारोबार बढ़ाने के लिए दीपावली के दिन लक्ष्मी जी और गणेश जी की पूजा विधिपूर्वक अवश्य करनी चाहिए। दीपावली पर ऑफिस तथा घर में लक्ष्मी पूजा की विधि में थोड़ा- सा ही अंतर होता है । Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi द्वारा बताये जा रहे दुकान में दिवाली लक्ष्मी पूजा की विधि || Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Ki Vidhi को पढ़कर आप भी आप भी लक्ष्मी पूजन आसानी से कर सकोंगे !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 7821878500 Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Ki Vidhi By Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi

दुकान में दिवाली लक्ष्मी पूजा की विधि || Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Ki Vidhi

दुकान में दिवाली लक्ष्मी पूजा की सामग्री || Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Samagri

लक्ष्मी जी की पूजा के लिए रोली, चावल, पान- सुपारी, लौंग, इलायची, धूप, कपूर, घी या तेल से भरे हुए दीपक, कलावा, नारियल, गंगाजल, गुड़, फल, फूल, मिठाई, दूर्वा, चंदन, घी, पंचामृत, मेवे, खील, बताशे, चौकी, कलश, फूलों की माला, शंख, लक्ष्मी व गणेश जी की मूर्ति, थाली, चांदी का सिक्का, 11 दिए आदि वस्तुएं चाहिए होती है।

दुकान में दिवाली लक्ष्मी पूजा की विधि || Dukan Me Diwali Lakshmi Puja Ki Vidhi

दीपावली के दिन जहां घरों में रात को लक्ष्मी पूजा की जाती है, वही दूसरी तरफ ऑफिस व दुकानों में लक्ष्मी पूजा दिन में ही किया जाता है। सभी व्यापारी धन वृद्धि और अपने कारोबार की सफलता के लिए लक्ष्मी-गणेश जी की पूजा करते हैं।

इस दिन ऑफिस के हॉल में या खाली जगह पर चौकी रखकर उस पर लक्ष्मी व गणेशजी की मूर्तियों को स्थापित करना चाहिए। पूजा करते समय मूर्ति का मुख पूर्व या पश्चिम दिशा की ओर होना चाहिए।

इसके बाद जल से भरे हुए कलश को लक्ष्मी जी के सामने चावलों के ऊपर रखना चाहिए। नारियल को लाल चुनरी में लपेटकर कलश उसे कलश के ऊपर रखना चाहिए। लक्ष्मी जी की मूर्ति के सामने रोली से श्री का और गणेश जी के सामने त्रिशूल का चिह्न बनाना चाहिए।

हमारे Youtube चैनल को अभी SUBSCRIBES करें ||

मांगलिक दोष निवारण || Mangal Dosha Nivaran

दी गई YouTube Video पर क्लिक करके मांगलिक दोष के उपाय || Manglik Dosh Ke Upay बहुत आसन तरीके से सुन ओर देख सकोगें !

इसके बाद पूजा की सामग्री जैसे खील, बताशे, मिठाइयां, फूल, माला, दीप, रुपया आदि को अलग- अलग थालियों में रखना चाहिए। हाथ में जल ले कर इस मंत्र का उच्चारण करते हुए पूजा आरंभ करनी चाहिए –

ॐ पवित्रः अपवित्रो वा सर्वावस्थांगतोऽपिवा।

यः स्मरेत् पुण्डरीकाक्षं स वाह्यभ्यन्तर शुचिः॥

पृथ्विति मंत्रस्य मेरुपृष्ठः ग षिः सुतलं छन्दः

कूर्मोदेवता आसने विनियोगः॥

इस प्रकार पूरे ऑफिस पर जल छिड़क कर उसे पवित्र करना चाहिए। फिर पूरे विधि – विधान से गणेशजी व लक्ष्मी जी की पूजा करना चाहिए। अंत में सबको प्रसाद बांटकर तथा पंडित को दक्षिणा देकर उसे विदा करना चाहिए।

इस दिन लक्ष्मी-गणेश जी की पूजा के साथ व्यापार वृद्धि यंत्र, महालक्ष्मी यंत्र या कुबेर यंत्र की स्थापना या पूजा करना भी शुभ माना जाता है। मान्यता है कि दीवाली के दिन इन यंत्रों को स्थापित करने से अधिक फल प्राप्त होता है।

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


नोट : ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या से परेशान हो तो ज्योतिष आचार्य पंडित ललित शर्मा पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 7821878500 ( Paid Services )

आगे इन्हें भी जाने :

जानें : दीपावली के उपाय : Click Here

जानें : माँ श्री लक्ष्मी मंत्र : Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *