भाग्य जगाने का मंत्र ( Bhagya Jagane Ka Mantra ) Bhagya Jagane

भाग्य जगाने का मंत्र, Bhagya Jagane Ka Mantra, Bhagya Jagane Ke Mantra, Bhagya Jagane Ke Upay, Bhagya Jagane Ka Tarika, Bhagya Jagane Ke Totke, Bhagya Jagane Ke Liye Kare Ye Mantra, Bhagya Jagane Ke Liye Mantra.

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

भाग्य जगाने का मंत्र || Bhagya Jagane Ka Mantra

यह तो आप जानते हो की किसी भी कार्य करने में कर्म प्रधान होता है परन्तु ज्योतिष के अनुसार हमारी कुंडली का नवां भाव भाग्य भाव भी कहा गया है इसलिए हम यह भी कह सकते है की हमारी जीवन में एक ताला होता है जो की एक कर्म की चाबी से खुलता है और दूसरी भाग्य की चाबी से ! जिन भी जातक की कुंडली में यह दोनों चाबी बहुत मजबूत होती है वह अपने जीवन में और जातकों की तुलना में ज्यादा उन्नति करता है इसलिए हम आपको भाग्योदय वृद्दि के कुछ छोटे छोटे उपाय बताने जा रहे है जिन्हें आप करके अपना भाग्य में मजबूती ला सकते है ! जिन्हें आप अपने जीवन में नियमित रूप से करते हैं तो आपका जीवन में भाग्योन्नति बहुत तेज़ी से होने लगेगी ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi द्वारा बताये जा रहे भाग्य जगाने का मंत्र || Bhagya Jagane Ka Mantra को पढ़कर आप भी इन उपाय को करके अपने भाग्य / किस्मत को मज़बूत कर सकते हो !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 7821878500 Bhagya Jagane Ka Mantra By Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi

भाग्य जगाने का मंत्र || Bhagya Jagane Ka Mantra

  • जो भी जातक अपना भाग्योदय करना चाहता है तो नीचे दिए गये Bhagya Jagane Ka Mantra को बताये गई विधि से जाप करने से जातक का भाग्योदय ( bhagya uday mantra ) होने लगता हैं.
    • भाग्य जगाने का मंत्र : Bhagya Jagane Ka Mantra : मन्त्र महामनि विषय ब्याल के । मेटत कठिन कुअंग भाल के ।।
    • मंत्र करने की विधि : दिए गये मंत्र का जाप रोजाना 1000 बार हल्दी की माला से लगातार 6 महीनें तक करने से जातक का भाग्य चमकने ( bhagya chamkane ka mantra ) लगता हैं ! 

  • Bhagya Jagane के लिए जातक को रोजाना पूजा करने के समय नीचे दिए गये मंत्र का जाप करने से जातक का भाग्य चमकने लगता हैं ! पहले जातक को पूजा करने के समय त्रिदेव ( ब्रह्मा, विष्णु एवं महेश ) तथा नवग्रहों की पूजा अर्चना करें ! फिर नीचे दिए गये मंत्र का उच्चारण करें : भाग्य जगाने का मंत्र : Bhagya Jagane Ka Mantra :
  • ब्रह्मा मुरारिस्त्रिपुरान्तकारी, भानुः शशी भूमिसुतो बुधश्व ।
  • गुरूश्व शुक्रः शनिश्राहुक, तवःकुर्वन्तु सर्वे मम सुप्रभातम ।।

हमारे Youtube चैनल को अभी SUBSCRIBES करें ||

मांगलिक दोष निवारण || Mangal Dosha Nivaran

दी गई YouTube Video पर क्लिक करके मांगलिक दोष के उपाय || Manglik Dosh Ke Upay बहुत आसन तरीके से सुन ओर देख सकोगें !

  • जिस भी जातक को अपना भाग्योदय करना हो तो उसके लिए यंहा एक छोटी सी साधना बताने जा रहे हैं. जिसे करने से जातक का भाग्योदय होने लगेगा. यह Bhagya Jagane Ka Mantra बहुत ही सरल है, इसे आपको दीपावली के दिन से शुरू करना होता हैं !  यह एक प्रकार की साधना है जो लगातर 3 महीने तक की जाती हैं ! इस भाग्य जगाने का मंत्र ( Bhagya Jagane Ka Mantra ) साधना को करने के लिए जातक को पहले ब्रह्मुहुर्त में जगकर श्रीमहा-लक्ष्मी जी की मूर्ति या प्रतिमा की पूजा अर्चना करें. पूजन में “कुंकुम” महत्त्वपूर्ण है, इसे अवश्य चढ़ाए । उसके बाद एक माला जा जाप “ॐ ह्रीं सूर्याय नमः” मंत्र का करें ! उसके बाद संकल्प लेकर “श्री-सूक्त” का 15 पाठ रोजाना 3 महीने तक पढ़ें. उसके बाद रोजाना एक पाठ करें, और शाम के समय श्री लक्ष्मी जी का सहस्त्र-नामावली से सांय-काल “कुंकुमार्चन” करे, जातक द्वारा ऐसा करने से Bhagya Jagane लगता हैं ! 
  • जिस भी जातक को अपना Bhagya Jagane हो तो सुबह पहले जगकर नहा धोकर ताम्बें के लोटे में साफ़ जल भरकर उसके गंगाजल डालें, लाल चंदन या कुमकुम डालें और लाल पुष्प डालकर पूर्व दिशा की और मुंह करते हुए उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देते हुए नीचे दिये गये सूर्य मंत्र का जाप करें ! ऐसा करने से जातक का भाग्य जगाने ( bhagya jagane ka mantra ) लगता हैं !
    • भाग्य जगाने का मंत्र : Bhagya Jagane Ka Mantra : नमामि देवदेवशं भूतभावनमव्ययम्। दिवाकरं रविं भानुं मार्तण्डं भास्करं भगम्।
    • जय लोकप्रदीपाय जय भानो जगत्पते। जय कालजयानन्त संवत्सर शुभानन ।। 

  • जिस भी जातक के पितृ नाराज होते है या उनके परिवार के कुल देवी या कुल देवता नाराज होते है तो उनका भाग्य काम नही करता हैं ! इसलिए हम आपको भाग्य जगाने का मंत्र ( Bhagya Jagane Ka Mantra ) बताने जा रहे हैं ! जिन मन्त्रों के जाप करने से आपके पितु व् कुल देवी या कुल देवता द्वारा आ रही परेशानी समाप्त हो जाएगी ! भाग्य जगाने का मंत्र : Bhagya Jagane Ka Mantra :
    • ॐ कुलदेवतायै नम: ( 21 बार )
    • ॐ कुलदैव्यै नम: ( 21 बार )
    • ॐ नागदेवतायै नम: ( 21 बार )
    • ॐ पितृ दैवतायै नम: ( 108 बार )

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आपके जीवन में भी भाग्योन्नति में परेशानी आ रही हो या आपका भाग्य कमज़ोर होकर आपका साथ नही दे रहा हो तो ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 7821878500 ( Paid Services )

Related Post :

भाग्य चमकाने के उपाय || Bhagya Chamkane Ke Upay

किस्मत चमकाने के उपाय || Kismat Chamkane Ke Upay

सोये भाग्य को जगाने के उपाय || Soye Bhagya Ko Jagane Ke Upay

भाग्य जगाने का शाबर मंत्र || Bhagya Jagane Ka Shabar Mantra

मेष राशि के भाग्योदय उपाय || Mesh Rashi Ke Bhagyoday Upay

वृषभ राशि के भाग्योदय उपाय || Vrishabha Rashi Ke Bhagyoday Upay

मिथुन राशि के भाग्योदय उपाय || Mithun Rashi Ke Bhagyoday Upay

कर्क राशि के भाग्योदय उपाय || Kark Rashi Ke Bhagyoday Upay

सिंह राशि के भाग्योदय उपाय || Singh Rashi Ke Bhagyoday Upay

कन्या राशि के भाग्योदय उपाय || Kanya Rashi Ke Bhagyoday Upay

तुला राशि के भाग्योदय उपाय || Tula Rashi Ke Bhagyoday Upay

वृश्चिक राशि के भाग्योदय उपाय || Vrishchik Rashi Ke Bhagyoday Upay

धनु राशि के भाग्योदय उपाय || Dhanu Rashi Ke Bhagyoday Upay

मकर राशि के भाग्योदय उपाय || Makar Rashi Ke Bhagyoday Upay

कुंभ राशि के भाग्योदय उपाय || Kumbh Rashi Ke Bhagyoday Upay

मीन राशि के भाग्योदय उपाय || Meen Rashi Ke Bhagyoday Upay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *